हनुमान तुम्हारा क्या कहना / Hanuman Tumhara Kya Kehna – Lakkha

Hanuman Tumhara Kya Kehna Lyrics in Hindi – ‘Hanuman Tumhara Kya Kehna’ is a Hanuman Bhajan from album ‘Ram Na Milenge Hanuman Ke Bina’ sung by Lakhbhir Singh Lakkha. This bhajan is also famous with title ‘Kalyug Me Sidhh Ho Dev’. Lyrics of Hanuman Tumhara Kya Kehna bhajan are written by Shrikant Mishra. Music is given by Durga Natraj and label is T-Series.

Hanuman Bhajan – Hanuman Tumhara Kya Kehna
Album – Ram Na Milenge Hanuman Ke Bina
Singer – Lakhbir Singh Lakkha
Lyrics – Shrikant Mishra
Music – Durga Natraj
Label – T-Series

Hanuman Tumhara Tumhara Kya Kehna Lyrics

कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

जय हो, कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
जी हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना
तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना

ऐ जी,कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा, तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

हो कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

(संगीत)

ऐ, सीता की खोज करी तुमने
तुम सात समुन्दर पार गये
सीता की खोज करी तुमने
तुम सात समुन्दर पार गये

हो सीता की खोज करी तुमने
तुम सात समुन्दर पार गये
सीता की खोज करी तुमने
तुम सात समुन्दर पार गये

लंका को, लंका को किया शमशान प्रभु
बलवान तुम्हारा, तुम्हारा क्या कहना
लंका को किया शमशान प्रभु
बलवान तुम्हारा क्या कहना

तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना
तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना

ऐ, कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

जी कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

(संगीत)

हो जब लखन जी को शक्ति लगी
तुम घोलागिर पर्वत लाये
जब लखन जी को शक्ति लगी
तुम घोलागिर पर्वत लाये

ऐ जब लखन जी को शक्ति लगी
तुम घोलागिर पर्वत लाये
जब लखन जी को शक्ति लगी
तुम घोलागिर पर्वत लाये

हाँ जी लक्ष्मण के
लक्ष्मण के बचाये आ कर के
तब प्राण तुम्हारा क्या कहना
लक्ष्मण के बचाये आ कर के
तब प्राण तुम्हारा क्या कहना

तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना
तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना

ऐ जी, कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
जी हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
जी हनुमान तुम्हारा क्या कहना

(संगीत)

तुम भक्त शिरोमनी हो जग मे
तुम वीर शिरोमनी हो जग मे
तुम भक्त शिरोमनी हो जग मे
तुम वीर शिरोमनी हो जग मे

ऐ जी तुम भक्त शिरोमनी हो जग मे
तुम वीर शिरोमनी हो जग मे
तुम भक्त शिरोमनी हो जग मे
तुम वीर शिरोमनी हो जग मे

तेरे रोम रोम मे
दुनिया में हनुमान जी ही एक ऐसे देव है
जो वीर भगत शिरोमणि भी है और वीर शिरोमणि भी

और तेरे रोम रोम
तेरे रोम रोम मे बसते हैं
सिया राम तुम्हारा क्या कहना
तेरे रोम रोम मे बसते हैं
सिया राम तुम्हारा क्या कहना

तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना
तेरी भक्ति का क्या कहना
तेरी शक्ति का क्या कहना

ऐ जी, कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

हो कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
जी हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना
कलयुग मे सिद्ध हो देव तुम्ही
हनुमान तुम्हारा क्या कहना

We hope you understood song Kalyug Me Siddh Ho Dev Hanuman Tumhara Kya Kehna lyrics in Hindi. If you have any issue regarding the lyrics of Hanuman Tumhara Kya Kehna song, please contact us. Thank you.

Share on