आज मंगलवार है महावीर का वार है/ Aaj Mangalwar Hai

Aaj Mangalwar Hai Lyrics in Hindi – ‘Aaj Mangalwar Hai Mahaveer Ka War Hai’ is a tuesday song sung dedicated to lord Hanumana. This bhajan is sung by Shiv Nigam. Lyrics of Aaj Mangalwar Hai Mahaveer Ka War Hai bhajan are traditional. Music is given by Lovely Sharma and label is Supertone Digital.

Bhajan – Aaj Mangalwar Hai Mahaveer Ka War Hai
Singer – Shiv Nigam
Lyrics – Traditional
Music – Lovely Sharma
Label – Supertone Digital

Aaj Mangalwar Hai Mahaveer Ka War Hai Lyrics in Hindi

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

चैत्र सुदी पूनम मंगल का जनम वीर ने पाया है
जनम वीर ने पाया है
चैत्र सुदी पूनम मंगल का जनम वीर ने पाया है
जनम वीर ने पाया है

लाल लंगोट गदा हाथ में सिर पर मुकुट सजाया है
सिर पर मुकुट सजाया है

शंकर का अवतार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

ब्रह्मा जी के ब्रम्ह ज्ञान का बल भी तुमने पाया है
बल भी तुमने पाया है
ब्रह्मा जी के ब्रम्ह ज्ञान का बल भी तुमने पाया है
बल भी तुमने पाया है

राम काज शिव शंकर ने वानर का रूप धारिया है
वानर का रूप धारिया है

लीला अपरमपार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

बालापन में महावीर ने हरदम ध्यान लगाया है
हरदम ध्यान लगाया है
बालापन में महावीर ने हरदम ध्यान लगाया है
हरदम ध्यान लगाया है

श्रम दिया ऋषिओं ने तुमको ब्रम्ह ध्यान लगाया है
ब्रम्ह ध्यान लगाया है

राम नाम आधार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

राम जनम हुआ अयोध्या में कैसा नाच नचाया है
कैसा नाच नचाया है
राम जनम हुआ अयोध्या में कैसा नाच नचाया है
कैसा नाच नचाया है

कहा राम ने लक्ष्मण से ये वानर मन को भाया है
वानर मन को भाया है

राम चरण से प्यार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

पंचवटी से माता को जब रावण लेकर आया है
रावण लेकर आया है
पंचवटी से माता को जब रावण लेकर आया है
रावण लेकर आया है

लंका में जाकर तुमने माता का पता लगाया है
माता का पता लगाया है

आख्शार को मार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

मेघनाथ ने ब्रह्पाश में तुमको आन फसाया है
तुमको आन फसाया है
मेघनाथ ने ब्रह्पाश में तुमको आन फसाया है
तुमको आन फसाया है

ब्रह्पाश में फस कर के ब्रम्हा का मान बढ़ाया है
ब्रम्हा का मान बढ़ाया है

बजरंगी वाकी मार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

(संगीत)

लंका जलायी आपने जब रावण भी घबराया है
रावण भी घबराया है
लंका जलायी आपने जब रावण भी घबराया है
रावण भी घबराया है

श्री राम लखन को आनकर माँ का सन्देश सुनाया है
माँ का सन्देश सुनाया है

सीता शोक अपार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है

आज मंगलवार है
महावीर का वार है
ये सच्चा दरबार है
सच्चे मन से जो कोई ध्यावे
उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है

We hope you understood bhajan Aaj Mangalwar Hai lyrics in Hindi. If you have any issue regarding the lyrics of Aaj Mangalwar Hai Mahaveer Ka War Hai song, please contact us. Thank you.

Share on